शुक्रवार 03 अप्रैल 2020                   आज का शब्द – AUTHORISED | प्राधिकृत
GO
en-US|hi-IN

Text/HTML

श्री विनोद कुमार तिवारी, अतिरिक्त सचिव, कोयला मंत्रालय


श्री विनोद कुमार तिवारी

श्री विनोद कुमार तिवारी, अतिरिक्त सचिव, कोयला मंत्रालय (अप्रैल, 2019), 1986 बैच, हिमाचल प्रदेश कैडर के भारतीय वन सेवा अधिकारी है, वे जर्मन भाषा में प्रमाण पत्र के साथ ही भूविज्ञान और वानिकी में स्नातकोत्तर उपाधि धारक हैं। तीन दशक के अपने विस्तृत कैरियर में, उन्होंने जनजातीय कार्य मंत्रालय, भारत सरकार में संयुक्त सचिव के रूप में अपनी नियुक्ति (अप्रैल,2017) से पूर्व विभिन्न पदों (एचआरडी, आईटी, विधि, कार्मिक, पर्यावरण, सामाजिक तथा आर आर एवं एम एंड ई) में सेवाएँ प्रदान की है । उन्होंने विद्युत उत्पादन में प्रयुक्त हिमाचल प्रदेश के पीएसयू में निदेशक सहित एक दशक तक विभिन्न क्षमताओं पर राज्य विद्युत क्षेत्र की सेवा की है। उनका यूएनएफसीसी क्रियाविधि के अंतर्गत जल विद्युत क्षेत्र की प्रमुख सीडीएम परियोजनाओं के पंजीकरण में तथा कार्बन ट्रेडिंग हेतु यथोचित परिश्रम के अलावा डब्ल्यूसीडी अनुपालन में महत्वपूर्ण योगदान रहा है । जनजातीय कार्य मंत्रालय, भारत सरकार में उनके कार्यकाल के दौरान, उन्होंने एनजीओ अनुदान प्रक्रिया को एंड-टू-एंड ऑनलाइन समाधान बनाते हुए सरलीकृत किया है । उन्होंने सेन्ट्रल अंब्रेला के तहत आदिवासी छात्रों के लिए संवर्धित और सुनिश्चित समर्थन के साथ एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय को, न केवल शिक्षा के लिए, बल्कि छात्रों के समग्र विकास के लिए लाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया । इन्होंने स्वैच्छिक रूप से हिमाचल प्रदेश की कठोर जलवायु, दूरस्थ तथा कठिन आदिवासी क्षेत्र (पांगी सब-डिवीजन, चंबा जिला) में कार्य किया है। सीडीएम परियोजना, डब्ल्यूसीडी अनुपालन, ईआईए, ईएमपी तैयारी तथा अनुपालन निगरानी आदि के अलावा, पर्यावरण प्रबंधन और आदिवासी कल्याण एवं जनजातीय विकास के लिए वे राज्य विद्युत क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण नीतियों के विकास में, राज्य पर्यावरण तथा वन क्षेत्र; में महत्वपूर्ण योगदान दिए हैं। वे भारत और विदेशों में दूर-दूर तक यात्रा किए है तथा विभिन्न विषयों में प्रशिक्षित हैं। वे विभिन्न सेवाओं के प्रशिक्षण अकादमियों में विजिटिंग फैकल्टी रहे हैं। वे समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लेखों का योगदान देते रहते हैं।